Breaking News
Home / World / भारत से ‘परेशान’ नेपाल चीन से तेल मंगाएगा

भारत से ‘परेशान’ नेपाल चीन से तेल मंगाएगा

नेपाल
Image caption भारत नेपाल सीमा पर रुके हुए ट्रक

नेपाल में अधिकारियों का कहना है कि वे ज़रूत का एक तिहाई पेट्रोलियम उत्पाद चीन से आयात करने की योजना बना रहे हैं.

भारत-नेपाल सीमा पर अघोषित आर्थिक नाकेबंदी के चलते नेपाल में ईधन संकट गहरा गया है.

यदि यह प्लान सफ़ल होता है तो ऐसा पहली बार होगा जब नेपाल चीन से तेल मंगाएगा.

पेट्रोलियम के आयात के लिए वो हमेशा से दक्षिणी पड़ोसी देश भारत पर निर्भर रहा है.

रास्ता खुलने से उम्मीद बढ़ी

Image copyright Krishna Thapa
Image caption नेपाल की तिब्बत से लगी केरुंग चौकी

नेपाल के अधिकारियों के मुताबिक़, बुधवार को तिब्बत के लिए फिर से रास्ता खुल जाने से इस नए रास्ते को लेकर उनकी उम्मीदें बढ़ गई हैं.

अप्रैल में नेपाल में आए विनाशकारी भूंकप के बाद से ही रउवागड़ी-केरूंग चौकी बंद थी.

नेपाल और चीन के बीच दो सड़क मार्ग हैं जो भूकंप के बाद बंद हो गए थे. अब ये दोनों ही रास्ते खुल गए हैं.

नेपाल ऑयल कॉर्पोरेशन के अधिकारियों का कहना है कि सीमा-चौकियां खुल जाने के बाद से तिब्बत के रास्ते चीन से तेल आयात करने की संभावनाएं बढ़ गई हैं.

नेपाल ऑयल कॉर्पोरेशन के प्रवक्ता दीपक बराल का कहना है कि चीन से तेल आयात करना लंबी योजना का हिस्सा है और दोनों देशों के बीच समझौते का इंतज़ार है.

सबक

Image copyright Reuters
Image caption नेपाल में भारत के खिलाफ़ विरोध प्रदर्शन

बराल ने कहा कि भारतीय सीमा पर आर्थिक नाक़ेबंदी के बाद नेपाल ने सबक़ सीखा है.

तीन तरफ से भारत और एक तरफ चीन से घिरा नेपाल तेल, दवाओं और अन्य ज़रूरी सामानों की आपूर्ति के लिए पूरी तरह भारत पर निर्भर है.

नेपाल में नए संविधान को लेकर भारतीय सीमा से सटे इलाक़ों में हो रहे विरोध के कारण भारत-नेपाल सीमा पर अघोषित नाकेबंदी है.

नए संविधान के विरोध में हुए प्रदर्शनों में चालीस से ज़्यादा लोग मारे जा चुके हैं.

रसोई गैस भी नहीं

Image copyright AFP GETTY

भारत का कहना है कि तनाव के कारण ट्रक नेपाल में दाख़िल नहीं हो पा रहे हैं और नेपाली सरकार और तराई के लोगों के बीच राजनीतिक समझौते के बाद ही आपूर्ति बहाल हो सकेगी.

कुछ दिनों के लिए नाकेबंदी में ढील हुई थी और ट्रक नेपाल में दाख़िल हुए थे, लेकिन अब नेपाली अधिकारियों का कहना है कि हालात एक बार फिर बिगड़ गए हैं.

अधिकारियों के मुताबिक़, नेपाल में रसोई गैस का भी संकट हो गया है.

नाकेबंदी से पहले नेपाल भारत से रोज़ाना सात लाख मेट्रिक टन रसोई गैस आयात करता था. अधिकारियों का कहना है कि अभी आपूर्ति पूरी तरह ठप है.

Image copyright bbc
Image caption नेपाल के विदेश मंत्री कमल थापा

मुद्दे को सुलझाने के लिए नेपाली विदेश मंत्री कमल थापा शनिवार को भारत में होंगे.

नेपाली अधिकारियों के अनुसार, यदि भारत से समझौता हो भी जाता है तब भी वो चीन के रास्ते ज़रूरी सामानों को आयात करने की योजना पर आगे बढ़ेंगे.

नाक़ेबंदी से पहले नेपाल भारत के रास्ते रोज़ाना पाँच लाख किलोलीटर तेल आयात करता था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)


Powered By BloggerPoster

BBCHindi.com | ताज़ा समाचार